whatsapp

इंदौर में शराब दुकान पर लड़कियों को देखकर नाराज हुए पं. प्रदीप मिश्रा: बोले- दूसरे जगह से पढ़ने आईं ‘बेटियां’ खराब कर रहीं शहर की फिजा, यहां की बेटियां इतनी मर्यादा नहीं तोड़ सकतीं

हेमंत शर्मा, इंदौर। इंदौर में शराब की दुकानों पर लड़कियों को देखकर कथा के दौरान पंडित प्रदीप मिश्रा ने नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा कि ये इंदौर की बेटियां नहीं हो सकती हैं। ये बाहर से पढ़ने आईं बेटियां ही शहर की फिजा को खराब कर रही हैं। इनके मां-बाप विश्वास कर इनको यहां पढ़ने के लिए भेजते हैं, लेकिन ये यहां आकर बिगड़ जाती हैं। उनका वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।

MP में कैसे पूरा होगा 1 लाख नौकरी का दावा?: कर्मचारी चयन बोर्ड में ही अधिकारियों का टोटा, एग्जामिनर कंट्रोलर सहित कई पद खाली

दरअसल, कथावचक पं. प्रदीप मिश्रा इन दिनों इंदौर के दलाल बाग में कथा कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने मैं विजय नगर चौराहे से साया जी चौराहे की ओर जा रहा था, तभी मैंने देखा मदिरा की दुकान पर छोरे तो कम थे छोरियां ज्यादा थी… आजकल का माहौल खराब हो गया है। मैंने उनसे कहा यह जो मंदिरा की दुकान पर खड़ी है। यह मेरे इंदौर की बेटियां नहीं हो सकती हैं। दूसरे जगह से यहां आकर.. कॉलेज में एडमिशन लेकर.. कमरा किराए से लेकर यह बेटियां फिजा को खराब कर रही हैं।

कुलपति की नियुक्ति पर सियासत: नेता प्रतिपक्ष ने PM मोदी को लिखा पत्र, मामले में हस्तक्षेप कर कार्रवाई की मांग

पं. प्रदीप मिश्रा ने आगे कहा, यह माता अहिल्या की भूमि है और रहेगी, आज भी मां अहिल्या हाथों में शिवलिंग लेकर चलती हैं, इसे कोई नकार नहीं सकता है। इंदौर की बेटियां इतनी मर्यादा नहीं तोड़ सकती हैं कि मंदिरा की दुकान पर लाइन लगाकर शराब खरीदें। इंदौर की बेटियां आज भी बाहर जाती है तो मर्यादित कपड़े पहन कर जाती हैं, लेकिन इनको चिढ़ाने के लिए बाहर से आईं लड़कियां ऐसे कपड़े पहन कर जाती हैं, उन्हें चिढ़ाकर बोलती है जैसा हम कपड़े पहन रहे हैं, वैसा पहनो, जैसा हम कर रहे हैं वैसा करो। देखिए वीडियो…

MP के साढ़े 4 लाख पेंशनर्स को तोहफा: सरकार ने 5 प्रतिशत बढ़ाया महंगाई भत्ता, अब खाते में आएंगे इतने रुपए

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus


Related Articles

Back to top button