मेडिकल स्टोर्स संचालक ने तय कीमत से ज्यादा में दवाई बेची, एसडीएम ने फटकार लगाते हुए वापस कराये पैसे

समीर शेख, बड़वानी। कोरोना आपदाकाल में पूरे प्रदेश में दवाइयों की किल्लत बनी हुई है. मरीज एवं परिजनों को बड़ी मशक्कत के बाद जरूरी दवाइयां मिल पा रही हैं, वहीं कुछ लोग इस अवसर का भरपूर फायदा उठा रहे हैं. शहर के कई दवा व्यापारी मनमर्जी दामों में दवाई बेचकर मुनाफा कमा रहे हैं. इसी कड़ी में कलेक्टर बड़वानी के निर्देश के बाद तय कीमत से ज्यादा पैसे ले रहे मेडिकल स्टोर्स संचालक को एसडीएम ने जमकर फटकार लगाई. उन्होंने मरीज के परिजन को पैसे वापस दिलवाए.

Close Button

आशाग्राम हॉस्पिटल से लगे मेडिकल स्टोर्स में तय कीमत से ज्यादा भाव

कोरोना के इस आपदाकाल को कमाई का जरिया बनाने वाले लोग इन दिनों हर जगह देखने को मिल रहे है. जिसे जब मौका मिलता है लूटने में कोई कसर नहीं छोड़ते है. ऐसा ही एक मामला सामने आया है. जहां आशाग्राम हॉस्पिटल से लगे मेडिकल स्टोर्स में तय कीमत से ज्यादा भाव लेकर संचालक दवाइयां दे रहा था. मरीज के परिजन मुकेश धनगर ने इसकी शिकायत एसडीएम घनश्याम धनगर से की.

Read More : ऑक्सीजन की कमी से जूझते मरीजों के लिए समाजसेवी संस्था ने की मदद, सिंगापुर से 30 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर मशीन शहर पहुंची

कोरोना आपदाकाल में अन्य दवाइयों पर भी 10 प्रतिशत छूट देने के निर्देश

शिकायत के बाद एसडीएम धनगर और नगर पालिका सीएमओ कुशलसिंह डुडवे तत्काल मेडिकल स्टोर्स पंहुचे. जहां संचालक को फटकार लगाकर पीडि़त को पैसे वापस दिलवाए. उन्होंने मेडिकल स्टोर्स संचालक को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि दोबारा शिकायत मिली तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी. अधिकारियों ने कोरोना आपदाकाल में अन्य दवाइयों पर भी 10 प्रतिशत छूट देने के निर्देश मेडिकल स्टोर्स संचालक को दिए.

Read More : लॉकडाउन में पुलिस ने दिखाई दरियादिली : युवक ने जहर खाने मांगे पैसे, 2 महीने का राशन लेकर घर पहुंच गई पुलिस

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।