अमृत महोत्सव में तिरंगे का अनादर : कूड़ा उठाने वाली गाड़ी से बांटे गए राष्ट्रध्वज, देखिए Video

अयोध्या. देशभर में स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव के तहत आज से हर घर तिरंगा अभियान का आरंभ हो गया है. वहीं अयोध्या में तिरंगे के अपमान की एक घटना सामने आई है. समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्विटर पर तिरंगे के अपमान का वीडियो साझा किया है.

अखिलेश यादव ने अमृत महोत्सव के दौरान का वीडियो शेयर कर कहा कि ‘महापौर की मौजूदगी में अयोध्या नगर निगम द्वारा कूड़ा उठाने वाली गाड़ी से राष्ट्रध्वज पहुंचाने से राष्ट्रध्वज का जो तिरस्कार हुआ है, वो अक्षम्य है. महोत्सव के नाम पर राष्ट्रध्वज का ऐसा अपमान निंदनीय है.’

बता दें कि इससे पहले अखिलेश यादव ने भाजपा नेता का झंडा बेचते हुए का एक वीडियो साझा करते हुए लिखा- ‘किसी के लिए देश का झंडा मान है तथा किसी के लिए बेचने का सामान है. भाजपाई हर बात पर दुकान लगाना बंद करें.’

वहीं अखिलेश यादव ने सपा के एक ट्वीट को साझा किया. इसमें तिरंगा को उलटा पकड़े हुए भाजपा नेता की तस्वीर साझा करते हुए लिखा- ‘भाजपा नेताओं द्वारा निरंतर तिरंगे का अपमान किया जा रहा है. उसी क्रम में बीजेपी के पूर्व सांसद ने भी उल्टा तिरंगा पकड़ कर अपनी नकली राष्ट्रभक्ति का प्रदर्शन किया. तस्वीर से देखा जा सकता है कि इन्हें तिरंगे से प्यार नहीं बल्कि अपने शीर्ष नेताओं की तरह केवल फोटोबाजी का शौक है!’

इसे भी पढ़ें – तिरंगा यात्रा को लेकर BJP की नियत साफ नहीं, इसके पीछे सिर्फ एक ही मकसद है… सपा सांसद ने दिया बड़ा बयान

सपा ने एक दिन पहले चित्रकूट भाजपा अध्यक्ष का एक फोटो साझा करते हुए लिखा था- शर्मनाक! चित्रकूट बीजेपी जिलाध्यक्ष के पैरों में पड़ा राष्ट्रध्वज तिरंगा देखिए। ये है भाजपाइयों द्वारा राष्ट्रध्वज के सम्मान के दावों का सच। कहीं बीजेपी नेतागण तिरंगे का रंग बदल रहे, कहीं उल्टा पकड़े हैं ,कहीं बेच रहे तो कहीं पैरों में रखे हैं। भाजपाईयों की राष्ट्रभावना यही है?

छतीसगढ़ की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक 
मध्यप्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
उत्तर प्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
दिल्ली की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
लल्लूराम डॉट कॉम की खबरें English में पढ़ने यहां क्लिक करें
खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
मनोरंजन की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक

Related Articles

Back to top button