महिला को एसिड पिलाने के मामले में बड़ी कार्रवाई, पुलिसकर्मियों पर गिरी गाज, ASI सस्पेंड

कर्ण मिश्र, ग्वालियर। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में नवविहाता पत्नी को उसके पति द्वारा एसिड पिलाने के मामले में पुलिसकर्मियों पर लापरवाही बरतने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई हुई है. मामले में डबरा टीआई पर गाज गिरी है. एसपी (SP) अमित सांघी ने डबरा टीआई विनायक शुक्ला को लाइन अटैच कर दिया है. वहीं एक एएसआई को सस्पेंड भी किया गया है.

दरअसल ग्वालियर जिले के डबरा थाना इलाके में बीती 28 जून को महिला के द्वारा एसिड पीने का मामला सामने आया था. जिसके बाद 3 जुलाई को यहां पीड़िता की मां ने थाने में दर्ज कराई कि उनकी बेटी को दहेज के लिए उसके ससुराल वाले परेशान कर रहे हैं. मां ने आरोप लगाया था कि उसका पति उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करता है. जिसके खिलाफ पुलिस ने दहेज प्रथा का मामला दर्ज कर लिया था. लेकिन जब मजिस्ट्रेट के सामने दिल्ली में बयान हुए तो पीड़िता ने यह बताया कि उसके पति, उसकी भाभी और ननद ने एसिड पिला दिया है. जिसके बाद उसके शरीर और पेट के अंग बुरी तरह जल गए हैं.

इसे भी पढ़ें ः यहां दो शातिर मोबाइल चोरों को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार, 30 स्मार्टफोन बरामद

मामले में पुलिस पर आरोप लगा था कि 3 जुलाई हुई एफआईआर में घरेलू हिंसा और दहेज एक्ट की धाराएं लगाई गई थी. जिसके बाद  दिल्ली महिला आयोग की चेयरपर्सन स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर लिखा कि ग्वालियर की लड़की को उसके पति ने एसिड पिलाया जिससे उसके अंग जल गए. मध्य प्रदेश में एफआईआर हल्की हुई और अब तक कोई अरेस्ट नहीं हुआ. जिसके बाद मंगलवार को एफआईआऱ में धारा 307 बढ़ाई गई. जिसमें पति के साथ ही जेठानी और ननद को भी पुलिस ने आरोपी बनाया. फिलहाल ननद और पति को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

कमलनाथ ने की जांच की मांग

बता दें कि मामले में पूर्व सीएम कमलनाथ ने भी इस मामले में शिवराज सरकार से पीड़ित महिला को न्याय दिलाने की मांग की है. कमलनाथ ने पुलिस कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए कार्रवाई की मांग की है. उन्होंने ट्वीट किया, “ग्वालियर के डबरा की बहन शशि जाटव के साथ घटित घटना बेहद नृशंस व हैवानियत भरी है. घटना के 22 दिन बाद पुलिस ने अन्य धाराओं को जोड़ा है, यह गंभीर लापरवाही है ?” उन्होंने आगे कहा, “मै सरकार से माँग करता हूँ कि पीडिता को न्याय मिले, उसकी हर संभव मदद हो, दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही हो, लापरवाही बरतने वाले ज़िम्मेदारों पर भी कार्यवाही हो.”

महिला आयोग अध्यक्ष ने सीएम से की थी मांग

गौरतलब है कि दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने मंगलवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिख कर आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की थी. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि ‘ग्वालियर की लड़की को उसके पति ने ऐसिड पिलाया जिससे उसके अंग जल गए. मध्य प्रदेश में एफआईआर हल्की हुई और अब तक कोई अरेस्ट नहीं हुआ. लड़की का इलाज हम दिल्ली में करवा रहे है और उसके बयान भी एसडीएम के सामने करवाए है. ये भयानक फ़ोटो इस आस से डाली है की शिवराज जी अपराधियों को अरेस्ट करवाएंगे.”

इसे भी पढ़ें ः पेगासस पर कमलनाथ की मोदी सरकार को चुनौती, बोले- अगर जासूसी नहीं कराई तो सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दें

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।