जानिए कौन हैं ये फ्रेंच कलाकार, जिनको समर्पित है आज के Google का Doodle…

मुंबई. दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन गूगल आम तौर पर किसी खास शख्सियत को उनके जन्मदिन या पुण्यतिथि पर अपना डूडल समर्पित करता है. लेकिन आज यानी 10 फरवरी का गूगल डूडल कुछ अलग और खास है. गूगल ने अपना डूडल फ्रेंच एक्टर और प्लेराइटर मोलिरे (Molièr) को डेडिकेट किया है. उनका असली नाम जीन-बाप्टिस्ट पोक्युलीन था.

दरअसल वर्ष 1673 में आज ही के दिन मोलिरे ने अपने आखिरी नाटक Le Malade Imaginaire का प्रीमियर किया था. इसी खास दिन को याद करते हुए गूगल ने यह बेहतरीन डूडल बनाया है. ये डूडल कुल 6 स्लाइड्स में बनाया गया है, जिसमें Le Malade Imaginaire नाटक के अलावा मोलिरे के कुछ दूसरे प्रसिद्ध नाटकों की झलक भी दर्शाई गई है. इनमें स्कूल फॉर वाइव्स, डॉन जुअन और द माइजर जैसे नाटक शामिल हैं.

मोलिरे 17 वीं शताब्दी के कुछ महान कलाकारों में से एक माने जाते हैं. वो आम तौर पर अपने नाटकों में समाज की बुराइयों को व्यंगात्मक तरीके से पेश करते थे. वो अपने एक अलग अंदाज में नाटकों को पेश करते थे जो लोगों को काफी पंसद आता था. हालांकि मोलिरे को अपने व्यंगात्मक नाटकों की वजह से कुछ विवादों का सामना भी करना पड़ता था. मोलिरे को फ्रेंच कॉमडी का किंग भी माना जाता था. उन्होंने कई नाटकों में बेहतरीन अभिनय के साथ-साथ बेहतरीन नाटकों को लिखा भी है. मोलिरे ने ‘टारटेफ’ नाम से एक नाटक भी लिखा था जिसमें उन्होंने धर्म पर निशाना साधा था. इस नाटक की वजह से उन्हें काफी विवाद झेलना पड़ा था.

उनका यह नाटक 5 साल के लिए बंद भी कर दिया गया था लेकिन पांच साल बाद नाटक से बैन हटा लिया गया. मोलिरे ने अपन आखिरी नाटक Le Malade Imaginaire में मेडिकल प्रोफेशन को लेकर व्यंग कसा था.

Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।