Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

हेमंत शर्मा, इंदौर। इंदौर सड़क हादसे में 5 लोगों की मौत हो गई है। खंडवा रोड पर चोरल घाट के पास 50 फीट गहरी खाई में बस गिरने से ये हादसा हुआ। वहीं हादसे में 37 लोग घायल हो गए। बस हादसे के कारणों और रेस्क्यू ऑपरेशन की जानकारी लेने जब Lalluram.Com की टीम घटनास्थल पर पहुंची को हादसे के बाद की इनसाइड स्टोरी सामने आई। दरअसल हादसे के समय घटना क्षेत्र की पुलिस कैबिनेट मंत्री उषा ठाकुर (cabinet minister usha thakur) के चुनावी प्रचार में व्यवस्था को ठीक करने में लगी हुई थी। इसमें खुद थाना प्रभारी भी लगे हुए थे। हालात यह हुआ कि हादसे के एक घंटे तक पुलिस पहुंची ही नहीं। ग्रामीणों ने खुद रेस्क्यू अभियान चलाया। अगर हादसे के तुरंत बाद पुलिस पहुंचकर रेस्क्यू ऑपरेशन को संभाल लेती तो कुछ और लोगों की जिंदगी बच सकती थी।

VIDEO: टिकट नहीं मिलने पर कांग्रेस नेता ने कराया मुंडन, पार्टी के तीन बड़े नेताओं को भेजे बाल, 15 साल से पार्टी से जुड़ने का नहीं मिला इनाम तो नाराज होकर कही ये बातें

जानकारी मिली है कि बस एक बीजेपी नेता के करीबी का है। बस का परमिट 8 दिन पहले ही खत्म हो चुका था। बावजूद इसके बाद सड़कों पर धड़ल्ले से दौड़ रही थी।

बता दें कि इंदौर-खंडवा रोड पर पिछले डेढ़ महीने में 5 हादसों में 20 लोगों की जान जा चुकी है। इसकी मुख्य वजह है। इंदौर से खंडवा जाने वाली बसों की तेज रफ्तार बस संचालकों की बैठक लेने के बावजूद भी बस संचालक टाइम को लेकर ड्राइवरों पर इतना प्रेशर बना कर रखते हैं। इससे ड्राइवर गाड़ी को तेज रफ्तार चलाते हैं। इससे गाड़ी में बैठी सवारियों की जान खतरे में रहती है। ऐसा हादसा गुरुवार को इंदौर के सिमरोल थाना क्षेत्र में सामने आया, जिसमें 5 लोगों की अब तक मौत हो गई।

छात्र ने महिला टीचर को भेजा पॉर्न वीडियोः एग्जाम देने से रोकने पर की शर्मनाक हरकत, एप पर चल रहे परीक्षा के दौरान भी शेयर किया वीडियो

हादसे में घायल यात्रियों ने बताय़ा कि बस पलटने से पहले चालक ने एक आईसर वाहन को टक्कर मारा था। इसके बाद अनियंत्रित होता हुआ खाई में जा गिरा। रस्ते में ड्राइवर को कई लोगों ने गाड़ी संभल कर चलाने की समझाइश दी थ। इसके बाद भी ड्राइवर ने समय के अभाव में वाहन को तेज रफ्तार से चला रहा था। मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने ताबड़तोड़ बस के अंदर घायलों को निकालकर लोडिंग ऑटो और बसों में सवार कर इलाज के लिए अस्पताल रवाना किया।

मतदाताओं को लुभाने का प्रयासः पंचायत और निकाय चुनाव में वोटर्स को बांटने के लिए रखी गई 5 लाख की शराब जब्त, खाली मकान में रखी गई थी 61 पेटी शराब

वहीं थाना प्रभारी कैबिनेट मंत्री उषा ठाकुर के साथ भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी जिला पंचायत सदस्य मुन्नी बाई के लिए जनसंपर्क में व्यस्त थे। जबतक थाना प्रभारी आरएलएस भदौरिया घटनास्थल पर पहुंचे तब तक ग्रामीणों ने रेस्क्यू कर कर सभी लोगों को बाहर निकाल लिया था। हालांकि घायलों को देखने के कैबिनेट मंत्री उषा ठाकुर , कैबिनेट मंत्री तुलसी सिलावट इंदौर के एमवाय हॉस्पिटल जरूर पहुंचे। हालांकि तब तक 5 लोग अपनी जिंदगी गंवा चुका थे।

BIG BREAKING: एमपी में 60 यात्रियों से भरी बस 50 फीट गहरी खाई में गिरी, 5 लोगों की मौत, 24 से अधिक घायल

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus