CG में राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का आयोजन, बिहार के सीएम को दिया आमंत्रण

रायपुर। छतीसगढ़ में 28 से 30 अक्टूबर तक राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का आयोजन होने जा रहा है. जिसका आमंत्रण विधायक जगदलपुर एवं संसदीय सचिव रेखचंद जैन ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को दिया. जिसे बिहार के सीएम ने स्वीकार किया और बिहार राज्य का आदिवासी नृत्य दल भेजने की बात कही.

इसे भी पढे़ं : ‘लाल आतंक’ पर नकेल: पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 3 माओवादी ढेर, एक जवान जख्मी

बता दें कि छत्तीसगढ़ राज्य शासन ने आदिवासी संस्कृति और नृत्य को बढ़ावा देने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष राज्योत्सव के अवसर पर आदिवासी नृत्य महोत्सव का आयोजन किया जाता है. जिसमें भाग लेने के लिए सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आमंत्रण भेजते हैं. इस वर्ष बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को आमंत्रित करने के लिए जगदलपुर के विधायक एवं संसदीय सचिव रेखचंद जैन को राज्य सरकार ने जिम्मा सौंपा विधायक जगदलपुर एवं संसदीय सचिव रेखचंद जैन ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को आमंत्रित किया जाए.

इसे भी पढे़ं : दिव्यांग बालिका ने पैरों से भरे हुनर के रंग, जीता प्रथम पुरूस्कार

जिसके बाद संसदीय सचिव रेखचंद जैन ने बिहार राज्य के संस्कृति मंत्री आलोक रंजन झा से मुलाकात कर उन्हें छत्तीसगढ़ राज्य के बस्तर की कलाकृति भेंट की एवं उन्हें आदिवासी नृत्य महोत्सव के संबंध में जानकारी देते हुए बताया की छत्तीसगढ़ राज्य आदिवासी संस्कृति एवं नृत्य को बढ़ावा देने के लिए यह राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का आयोजन कर रही है जिसमें भारत के सभी आदिवासी समुदाय की नृत्य शैली शामिल होती है उन्होंने बिहार राज्य के आदिवासी नृत्य दल के साथ मंत्री को भी छत्तीसगढ़ राज्य आदिवासी नृत्य महोत्सव में शामिल होने का आमंत्रण दिया एवं संस्कृति विभाग के अधिकारियों को विस्तार से जानकारी दी.

इसे भी पढे़ं : Big Breaking News: अब बच्चों को भी लग सकेगी कोवैक्सीन, DGCI से मिली अनुमति

इस अवसर पर विधायक जगदलपुर एवं संसदीय सचिव रेखचंद जैन के साथ शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजीव शर्मा वरिष्ठ नेता संजय जैन विधि विभाग के जिलाध्यक्ष अवधेश झा नोडल अधिकारी डिप्टी कलेक्टर संजय विश्वकर्मा बिहार सरकार के संस्कृति विभाग के नोडल अधिकारी रविशंकर, समन्वय अधिकारी चितरंजन उपस्थित रहे.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!