whatsapp

क्या फिर से अंधेरे में डूबेगी दिल्ली, लोगों को सता रहा डर कि कहीं फिर से लौट न आए 9 साल पहले का वो दिन…

सीएम केजरीवाल ने पीएम मोदी को कोयले की कमी को लेकर लिखा है पत्र

नई दिल्‍ली। देश की राजधानी क्या फिर से अंधेरे में डूबेगी, ये सवाल लोगों के सामने मुंह बाए खड़ा है. दरअसल देश में कोयले की कमी ने बिजली उत्‍पादन पर बहुत बुरा असर डाला है. अगर जल्द ही कोयले की कमी पूरी नहीं हुई, तो दिल्ली वालों को बिजली-पानी की दिक्कत से दो-चार होना पड़ सकता है.

कोयले की कमी को लेकर CM केजरीवाल ने PM मोदी को लिखा पत्र, दिल्ली में हस्तक्षेप की मांग

 

गौरतलब है कि जुलाई 2012 में ग्रिड के फेल होने के कारण उत्तर और पूर्वोत्तर भारत की एक बड़ी आबादी अंधेरे में डूब गई थी. इसमें दिल्ली भी शामिल था. 30 जुलाई 2012 के ब्‍लैकआउट ने करीब 60 करोड़ लोगों को प्रभावित किया था. अगले दिन, जो ब्‍लैकआउट हुआ, उसकी गिनती दुनिया के सबसे बड़े ब्‍लैकआउट में होती है. दिल्‍ली एक बार फिर कुछ उसी तरह के संकट से दो-चार हो सकता है, अगर कोयले का संकट जल्द दूर नहीं हुआ तो.

मंत्री का इस्तीफा नहीं हुआ तो लखनऊ में इस दिन होगी सबसे बड़ी महापंचायत – राकेश टिकैत

 

9 साल पहले ग्रिड फेल हो जाने से 22 राज्‍यों की आबादी परेशान हुई थी. उस वक्‍त लगभग 60 करोड़ लोग इस ब्‍लैकआउट की चपेट में आए थे. रेलवे सेवाएं ठप हो गई थीं. ट्रेनें जहां-तहां खड़ी थीं, कई एयरपोर्ट भी कुछ घंटों के लिए बंद करने पड़े थे. 30 जुलाई के ब्‍लैकआउट में 80% पावर को बहाल करने में 15 घंटे लग गए थे. अगले दिन दोपहर 1 बजे फिर सिस्‍टम फेल हो गया था. दिल्‍ली मेट्रो ने सभी लाइनों पर सेवाएं बंद कर दी थीं. ट्रनों से यात्रियों को रेस्क्यू करना पड़ा था.

 

2009 में भी दिल्‍ली में हुआ था बिजली का संकट

2009 में भी दिल्ली में भीषण गर्मी पड़ रही थी, तो दूसरी तरफ रोज 10-12 घंटे बिजली कटती थी. एक चौथाई ट्रैफिक लाइट्स ने काम करना बंद कर दिया था. बैकअप ने जवाब दे दिया था, ऊपर से मंडोला पावर स्‍टेशन ट्रिप कर गया था.

 

सीएम केजरीवाल ने लिखा पीएम मोदी को पत्र

 

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के बिजली प्लांटों में कोयले की कमी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM narendra modi) को पत्र लिखा है. सीएम केजरीवाल ने राष्ट्रीय राजधानी में बिजली संकट की समस्या के समाधान के लिए प्रधानमंत्री मोदी से इस मामले में व्यक्तिगत हस्तक्षेप करने की अपील की है.

cm kejriwal wrote a letter to pm modi
सीएम केजरीवाल ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

 

सीएम केजरीवाल ने पत्र में थर्मल पॉवर प्लांट में कोयले की किल्लत और कोयले की मौजूदा स्टॉक की जानकारी दी है. दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा है कि इन हालात में गैस आधारित पावर प्लांट पर निर्भरता बढ़ती है, लेकिन इतनी गैस नहीं है कि वह पावर प्लांट अपनी पूरी क्षमता पर चल सकें.

Defense Ministry Probe Into Alleged Coast Guard Forgery Case On

 

सीएम केजरीवाल ने पीएम मोदी के सामने रखी 3 मांगें

उन्होंने प्रधानमंत्री कार्यालय से मामले में दखल देने की गुजारिश की और तीन मांग की. सीएम केजरीवाल ने कहा कि दूसरे पावर प्लांट से कोयला दादरी और झज्जर पावर प्लांट भेजी जाए. दूसरी मांग ये कि दिल्ली के गैस आधारित पावर प्लांट को पर्याप्त गैस दी जाए, साथ ही इलेक्ट्रिसिटी एक्सचेंज में मुनाफाखोरी ना हो, इसके लिए प्रति यूनिट बिजली बेचने का अधिकतम रेट तय किया जाए.

 

Related Articles

Back to top button