राजनांदगांव मोहनी ज्वेलर्स मामला: 3 आरोपियों को कोर्ट ने भेजा जेल, गुनहगारों ने लगाए कई गंभीर आरोप

शिवम मिश्रा, रायपुर। रेवेन्यू इंटेलिजेंस डायरेक्टोरेट (DRI) की टीम ने बड़ी कार्रवाई की थी. रायपुर के दो तस्करों को पकड़कर टीम ने पूछताछ की तो राजनांदगांव के मोहनी ज्वेलर्स के बारे में जानकारी मिली. टीम ने वहां छापा मारा तो विदेशों से छत्तीसगढ़ स्मगल किए हुए सोने और चांदी के बिस्किट और रॉड का बड़ा जखीरा हाथ लगा. रेवेन्यू इंटेलिजेंस की टीम ने 3 आरोपियों को कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने आऱोपियों को जेल भेज दिया है.

Close Button

मोहनी ज्वेलर्स मामले में 3 आरोपी गिरफ्तार

रेवेन्यू इंटेलिजेंस के मुताबिक 3 आरोपियों को कोर्ट में पेश किया, जिसमें से आरोपियों में विजय उर्फ विक्की, सुशील और गौतम को पेश किया गया था. आरोपियों ने इन्वेस्टिगेशन एजेंसी पर शारीरिक और मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाया है. आरोपियों को 14 मई तक ज्यूडिशियल रिमांड पर कोर्ट ने जेल भेजा है. आरोपियों के पास से 18 किलो सोना और 4545 किलो चांदी के साथ 3 आरोपियों को DRI ने गिरफ्तार किया है.

बचाव पक्ष के वकील फैजल रिजवी ने बताया कि 1 मई को राजनांदगांव जिले के शांतिलाल फर्म के मोहनी ज्वेलर्स के घर और दुकान पर DRI की टीम ने छापेमार कार्रवाई की थी. इन्वेस्टिगेशन टीम ने मामले के तीनों आरोपी विजय उर्फ विक्की, सुशील, और गौतम को 3 दिनों से अपने कस्टडी में रखें हुए थे, जबकि नियम के मुताबिक आरोपियों को 24 घंटे से ज्यादा इन्वेस्टिगेशन टीम अपने कस्टडी में नही रख सकती है.

फैजल रिजवी ने बताया कि धारा 57 दंड प्रक्रिया संहिता के तहत तीनों आरोपियों को शाम 6:30 बजे कोर्ट में पेश किया गया. कोर्ट में आरोपियों ने इन्वेस्टिगेशन टीम पर मारपीट और कोरे कागज पर दबाव पूर्वक दतसख्त कराने का आरोप लगाया है. साथ ही सुनवाई के दौरान मजिस्ट्रेट ने देखा भी की विक्की चल नहीं पा रहा था. सभी पक्षों की जानने के बाद तीनों आरोपियों को 14 मई तक के लिए ज्यूडिशियल रिमांड पर जेल भेज दिया गया है.

दुनियाभर की कोरोना अपडेट देखने के लिए करें क्लिक

स्पोर्ट्स की ये खबरें जरूर पढ़ें

मनोरंजन की ये खबरें जरूर पढ़ें

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।